अकबर महान था या शैतान

क्या अकबर महान था? या शैतान? आज सच जान लीजिये !!

शेयर करे

क्या आप अकबर को आप एक महान सम्राट मानते हैं?अकबर महान था? या शैतान? यह एक बड़ी चर्चा का विषय है।

अकबर
अकबर

इस पर इतिहासकारों के बीच मतभेद है। तो चलिए आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे कि क्या सच में अकबर महान था? या फिर वह एक बहुत बड़ा शैतान था?तो चलिए शुरू करते हैं।

क्या अकबर महान था? या शैतान था?

मैं यहां आप को अकबर के किए गए कुछ अच्छे काम और कुछ बुरे काम के बारे में बताता हू। जिसे पढ़ने के बाद आप खुद फैसला कर पाएंगे कि अकबर महान था या शैतान!

अकबर महान था क्योंकि..

अकबर महान इस लिए था क्योकि उसने कुछ ऐसे फैसले लिए जो प्रजा के लिए बहुत अच्छा था

1: अकबर ने धर्म के आधार पर टैक्स बंद कराया।

अकबर ने 1564 में “जजिया कानून” पर प्रतिबंध लगा दिया। यह कानून हिंदुओं के लिए था क्योंकि वह पूजा पाठ करने के लिए एक जगह से दूसरी जगह जाते थे। जिसके लिए हिंदुओं को टैक्स देना पड़ता था। अकबर ने इस कानून को बंद करा दिया और यह फैसला किया कि कौन कितना अमीर है उस हिसाब से उसे टैक्स लिया जाएगा।

2: अपने मंत्रिमंडल में हिंदुओं को जगह दिया।

अकबर पहला ऐसा शासक था, जिसने अपने मंत्रिमंडल में हिंदुओं को जगह दी थी। इससे पहले कोई भी मुगल सम्राट ने ऐसा काम नहीं किया था। अकबर के समय हिंदू भी अपने राज्य के ऊंचे ऊंचे पद पर विराजमान थे। जो सिर्फ अकबर ने किया था।

इसे भी पढ़े:

1943 बंगाल का अकाल: जिसमें 40 लाख लोग मरे! अंग्रेजों ने मरने के लिए छोड़ा! आज सच जान लीजिए!!

3: शादी के लिए उम्र तय किया।

अकबर ने बाल विवाह पर प्रतिबंध लगाया था। और लड़कियों की शादी के लिए 14 साल और लड़कों के लिए 16 साल की उम्र तय की थी।

4: एक से अधिक विवाह पर टैक्स लगाया!

अकबर में बहु विवाह रोकने के लिए एक से अधिक विवाह करने पर टैक्स का प्रावधान बनाया। उसने विधवाओं को पुनर्विवाह को भी बढ़ावा दिया था।

5: सती प्रथा बंद कराया।

भारतीय समाज में कुरीतियों में सती प्रथा सबसे बड़ी कुरीति थी। जिसे अकबर ने बंद कराया। अकबर के आदेश अनुसार जब तक वह स्त्री खुद ना चाहे उसे सती कोई नहीं करा सकता।

6: हिंदू धर्म के पवित दिन पर मास की बिक्री बंद कराई।

अकबर हिंदू धर्म का भी उतना ही सम्मान करता था जितना वह इस्लाम का करता था। उसने यह नियम बनाया कि हिंदू धर्म के पवित्र दिन जैसे कि दशहरा, दुर्गापूजा, दिवाली जैसे दिनों पर मांस का बिकने पर पाबंदी लगादी।

 

इसे भी पढ़े:1200 सालों से 45 डिग्री पर अटका हुआ कृष्णा बटर बॉल! एक ऐसा रहस्य में पत्थर जो स्वर्ग से गिरा है।

7 :हिंदुओं के रीति रिवाज को समझा।

अकबर ने हिंदुओं के रीति रिवाज को बारीकी से समझा। और इस हिसाब से अपने राज्य में नियम बनाए ताकि हिंदू और मुस्लिम दोनों को कोई तकलीफ ना हो।

8: नवरत्नों की स्थापना की!

अकबर में आदमी को परखने की भरपूर क्षमता थी। इसका सबसे बड़ा उदाहरण ‘नवरत्न’ मिलता है। अकबर ने अपने दरबार में 9 अपने-अपने कार्य क्षेत्र में महारत हासिल किए हुए लोगों की टीम बनाई थी, जिसे नवरत्न कहा जाता था। जिसमें कई हिंदू भी शामिल थे।

9:उसने युद्ध बंदियों के बीवी बच्चों को बाजार में सरेआम नीलाम करने पर पाबंदी लगा दी थी।

 

कुल मिलाकर कहा जाए तो अब तक के मुगल के सबसे अच्छे राजा और में से एक था।जो हिंदू और मुस्लिम को बराबर देखता था।

यह सभी तर्क देकर इतिहासकार कहते हैं कि अकबर एक महान राजा था। वही इतिहासकारों का एक दूसरा वर्ग यह भी कहता है कि अकबर क्रूर, निर्दई और हवस भरा शासक था।

अकबर
अकबर

अकबर शैतान था क्योंकि…

प्रसिद्ध इतिहासकार विंसेट स्मिथ जो लिखा है कि

” अकबर एक क्रूर निर्दई निर्लज्ज बलात्कारी और हवस से भरा हुआ राजा था”

चलिए मैं आपको कुछ तथ्य बताता हूं जिससे आप यह जानेंगे कि अकबर शैतान क्यों था?

1:अकबर हवस से भरा हुआ आदमी था उसके हरम में करीब 5000 औरतें थी। जो उसका और उसके दरबार के लोगों का मनोरंजन करने के लिए रखी गई थी।

 

इसे भी पढ़े:

बेहद रोचक है। 5000 साल पुराना चाय का इतिहास!

 

2: 14 अगस्त 1582 के दिन अकबर ने दो इसाई युवकों को इस्लाम धर्म अपनाने से इनकार करने पर अपने हाथ से उनका कत्ल कर दिया। यह दोनों युवक सूरत के थे। इन दोनों युवकों के जान के बदले ईसाईयों ने हजार सोने के सिक्के देने का भी बात की थी।मगर अकबर हत्या करना ठीक लगा।

3:1587 में अकबर ने एक नियम निकाला जिसमें जो व्यक्ति अकबर से मिलना चाहता है वह अपने उम्र जितना मुद्रा देना पड़ेगा तभी वह अकबर से मिल पाएगा।

4: इतिहासकार कहते हैं कि अकबर ने सती प्रथा बंद कराया था।तो वहीं दूसरे इतिहासकारों का एक वर्ग है जो यह कहता है कि अकबर ने सती प्रथा केवल इसलिए बंद कराया था ताकि वे युद्ध में मारे गए राजाओं की सुंदर पत्नियों को अपने हरम में डाल सके।

5:अकबर औरतों के भेष में मीना बाजार जाता था। और जो औरत उसे पसंद आ जाती उसके सैनिक उसे उठाकर अकबर के हरम में डाल देता था।

6:अकबर ने बैरम खान के के साथ बहुत बड़ी गद्दारी है। बैरम खान ने अकबर को हर समय दुश्मनों से बचाया बदले में अकबर उस पर देशद्रोह का आरोप लगाकर उसे अपनी बची हुई जिंदगी मक्का मदीना में गुजारने क्या हुक्म दे दिया। उसकी नजर बैरम खान के सुंदर पत्नी पर थी। इसीलिए उसने ऐसा किया!

7:इतिहास में ऐसा लिखा गया है कि अकबर को देवी आते थे मगर सच तो यह है कि उसे मिर्गी के दौरे आते थे।

8:अकबर ने हिंदू राजाओं को हराने के बाद उनकी बहू बेटियों से विवाह किया और बदले में उससे राज्य वापस कर देता था इस तरह उसने अपने हरम में सैकड़ों हिंदू औरतों को रखा था।

यही सब बातों की वजह से अकबर को महान नहीं माना जाता है अब आप फैसला करके हमें कमेंट में बताइए कि अकबर महान था!!

आखरी शब्द

इस पोस्ट में हमने अकबर के अच्छे काम और उसके बुरे कर्मों के विषय में चर्चा किया जिससे हम यहां जान सकते हैं कि अकबर महान था?या शैतान?

मेरे विचार

क्योंकि इतिहास अकबर के समय ही लिखा गया था। इसीलिए इतिहास लिखते समय निष्पक्षता नहीं थी। उस समय केवल अकबर की प्रशंसा ही लिखी गई थी। इसीलिए आज सच हमारे सामने नहीं है। इतिहासकारों के बीच मतभेद भी है। अकबर के बारे में आज भी सब कुछ धुंधला है कुछ भी साफ नहीं है।

इसे भी पढ़े:

कोपी लूवक: 25 हजार मे बिकने वाला दुनिया का सबसे महंगा कॉफी! जो बिल्ली के मल से बनाया जाता है!

चमत्कार, यहां 1 स्तंभ हवा में झूलता है! जानिए, लेपाक्षी मंदिर का रहस्य!!

-50 डिग्री तापमान वाला ओम्याकोन, जो दुनिया का सबसे ठंडा गांव है। यहां कितनी कठिन है जिंदगी!!

 

Leave a Comment

Your email address will not be published.